Pesab Me Jalan Ka Ilaj Ke Liye Gharelu Nuskhe - Ayurveda in hindi-Gharelu Nuskhe-Desi Nuskhe-ayurvedic nuskhe

Feb 3, 2018

Pesab Me Jalan Ka Ilaj Ke Liye Gharelu Nuskhe




पेशाब में जलन माहवारी के दौरान औरत या तवायफ के साथ मिलने से या शराब और तीज मसले दर खनो का जियादा इस्तेमाल करने से ये बीमारी हो जाती है ये एक चोट की बीमारी है मर्दों की पेशाब की नली,मसने खासियो के दनियो तक ये बीमारी फील जाती है औरत के पेशाब वाली जगह में पहले से ये जरासीम मौजूद होते है जो मले और फीमेल के मिलने से ये मर्द को बीमारी लग जाती है 

लक्षण इस बीमारी लगने के बाद अजो तनासुल पर जलन अजती है और खारिज भी हूं जाती है और लिंग की सुपारी सुर्ख ही जाती और जलन के बायस फोल जाता है इसे दबाने से नली से सफेद रंग का खाथा लेसदर मवाद निकलता है पेशाब रुक रुक कर और जलन के साथ आता है हर बार पेशाब आने पर शादेड जलन होती है इस बीमारी के बीमार को रात को लिंग में तनाव का एहसास करता है पुरानी बीमारी में दर्द और जलन काम होती है लेकिन सफेद रंग का पीप निकलता पेशाब में जलन के घरेलू इलाज बताए है जिस के इस्तेमाल से पेशाब की जलन खत्म हो जाती गी

* पेशाब में जलन का इलाज के लिए चंदन का तील ,घंद्मक,बरोझा का तेल,नीम का पानी और पोटैशियम पर मेंगीत को मिला कर पिचकारी की से लेंग को धोया करे इस से फोरी फायदा होता है इस से पेशाब की जलन खत्म होती है

* लिंग में जलन के लिए आसान घरेलू इलाज ये है के बीस ग्राम हल्दी,और पच्चीस ग्राम अनोला और पच्चीस ग्राम मिश्री तेनो को पीस कर चूर्ण बनले इस चूर्ण में से दस ग्राम चूर्ण 15 दिन तक पानी के साथ उस करे इस से लिंग में जलन खत्म होजयगी

* पेशाब में जलन का इलाज के लिए आसान घरेलू नुस्खा इस के उस से जलन जल्दी ख़त्म होगी 10 या 8 बोंड बरगद का दूध बताशे पर रक कर तकरेबं 15 दिन तक उसे करे

* पेशाब में जलन का इलाज के लिए घरेलू इलाज बरी लाईची के दाने 5 ग्राम और मीता सौदा 5 ग्राम दोनों को मिला कर पीस ले इसे साथी के चावलों के मानद के साथ ले इस से पेशाब के जलन का इलाज जल्दी होता है

* पेशाब के जलन का देसी इलाज 10 ग्राम गावर पथा के घोड़े में थोड़ी से मिस्री मिला कर पंद्र दिन तक खाएं इस के इस्तेमाल से जलन की बीमारी ठीक हो जाती है

* रोजाना चोलाई के पत्तों का रस 20 ग्राम की मिकदार में ताज़ा पानी से ले ये पेशाब की जलन का बेहतरीन इलाज है
जीरो और बुने होवे पटक्री के दो चुटकी करें मिसी में मिला कर गए के दूध के साथ उस करे
लेमन ,नीम और मेहदी के पत्तों को थोड़ी से पानी में उबालें और जब अधा बाक़ी रहे जाए तो इस करहे से लिंग को अच्छी तरह डॉ ले लिंग जलन खत्म 

* बबूल की कुनप्ली रात को पानी में डाल दे फर इस पानी को छान कर पी ले इस के इस्तेमाल से पेशाब की जलन दूर हो जाती है
* कल्मी शोरा और बड़ी लाईची के दानों की 25 ,25 ग्राम की मिकदार को पीस ले और सुभा दूध के साथ ले 
* ग्राम तुलसी की कुनप्लो को पानी बघो कर पीस ले फिर इस में मिश्री मिला कर इस की 15 खोराक बना ले रोजाना एक खोराक के


Bachon Ke Bukhar Ka Ilaj Ke Liye 8 Gharelu Ilaj


* करेले का रस दो चमच रोजाना पइ इस के उस से जलन खत्म होगी 
* 10 ग्राम बबोल की चाल का कर्जा बना कर कुछ दिनों तक लगातार उसे करे ये भी पेशाब की जलन के लिए काफी मुफीद है
* एक चमछ तरफला चूर्ण एक कहामच पेसी हावी हल्दी और दो चमच पेसी हावी मिस्री इं सब को मिला कर शहेड के साथ आहिस्ता आहिस्ता चाटिए इस से पेशाब की जलन खत्म होगी 


* एक कप नीम की पत्तियों का खड़ा कुछ दिनों तक लगातार इस्तेमाल करे ये पेशाब की जलन के लिए  मुफीद है
* भिन्डी के फोटो की टरी से झारो को धो कर खुश्क कर ले फिर पीस कर चूर्ण बना ले इस में थोड़ी से मिस्री पीस कर मिला ले इस चूर्ण में से 10 ग्राम चूर्ण कुछ दिनों तक दूध के साथ रोजाना इस्तेमाल करे इस से पेशाब में जलन ठीक हो जाता है

* थोड़ी से पुख्ता केले कर कर दूध में खुश्क होने पर पीस ले फिर इस में थोड़ी सी चेनी मिला कर एक चमक चूर्ण दूध के साथ खाएं 
* फलक के बीजों का चूर्ण तीन ग्राम की मिकदार में दिन में तीन बार इस्तेमाल करे 
* खरबोजा के बीज 10 दस ग्राम पीस कर इस में चंदन के तेल का दस बोंड मिला कर ले

* पेशाब की जलन की बीमारी को दूर करने के लिए कुछ दिनों तक खेरे के रस में 1/2चमच कल्मी शुरा मिला कर रोजाना पइ 
* अनार के चलके , कथा और मिश्री 5,5 ग्राम की मिकदार में ले कर पीस ले इस दावा को 5 खुरेक करके सुभा और शाम इस्तेमाल करे
* ब्राह्मी का रस ,चे ग्राम और बील पतर चे ग्राम की ओसत में ले कर उसे करे 

* 8,10 दने बादाम की गरिया और एक चुटकी चंदन का ब्रधा दोनों को मिला कर पीस ले फिर इस में मिश्री मिला कर इस्तेमाल करे 
* रोजाना 10 दस ग्राम पुख्ता फलसे खाने से जर्यन की बीमारी दूर हो जाती है

* पेसी हावी पटक्री भों ले इस में एक चुटकी चूर्ण शहेड के साथ इस्तेमाल करे इस से पेशाब में जलन खत्म होती है 
* केले के तने का ताजा रस दस ग्राम एक चमच रोजाना पइ 
* गए के दूध या दही में नीम की दो अदद निमोले मथ कर रोजाना पइ और शेयर करे ताकि आप के शेयर करने से किसी की भलाई हो


Pesab me jalan mahware ke dauran aurat ya tawayaf ke saath milane se ya sharaab aur teej masale dar khano ka jiyaada istemaal karane se ye beemaaree ho jaatee hai ye ek chot kee beemaaree hai mardon kee peshaab kee nalee,masane khaasiyo ke daniyo tak ye beemaaree pheel jaatee hai aurat ke peshab wali jagah mein pahale se ye jaraaseem maujood hote hai jo male aur pheemel ke milane se ye mard ko beemaaree lag jaatee hai 
lakshan is beemaaree lagane ke baad ajo tanaasul par jalan ajatee hai aur khaarij bhee hoon jaatee hai aur ling kee supaaree surkh hee jaatee aur jalan ke baayas phol jaata hai ise dabaane se nalee se saphed rang ka khaatha lesadar mavaad nikalata hai peshaab ruk ruk kar aur jalan ke saath aata hai har baar peshaab aane par shaaded jalan hotee hai is beemaaree ke beemaar ko raat ko ling mein tanaav ka ehasaas karata hai puraanee beemaaree mein dard aur jalan kaam hotee hai lekin saphed rang ka peep nikalata peshaab mein jalan ke ghareloo ilaaj batae hai jis ke istemaal se peshaab kee jalan khatm ho jaatee gee

pesab me jalan ka ilaaj ke lie chandan ka teel ,ghandmak,barojha ka tel,neem ka paanee aur potaishiyam par mengeet ko mila kar pichakaaree kee se leng ko dhoya kare is se phoree phaayada hota hai is se peshaab kee jalan khatm hotee hai

ling mein jalan ke lie aasaan gharelu ilaj ye hai ke bees graam haldee,aur pachchees graam anola aur pachchees graam mishree teno ko pees kar choorn banale is choorn mein se das graam choorn 15 din tak paanee ke saath us kare is se ling mein jalan khatm hojayagee

pesab me jalan ka ilaaj ke lie aasaan ghareloo nuskha is ke us se jalan jaldee khatm hogee 10 ya 8 bond baragad ka doodh bataashe par rak kar takareban 15 din tak use kare

peshab mein jalan ka ilaj ke lie gharelu ilaj baree laeechee ke daane 5 graam aur meeta sauda 5 graam donon ko mila kar pees le ise saathee ke chaavalon ke maanad ke saath le is se peshaab ke jalan ka ilaj jaldee hota hai

peshab ke jalan ka desi ilaj 10 graam gaavar patha ke ghode mein thodee se misree mila kar pandr din tak khaen is ke istemaal se jalan kee beemaaree theek ho jaatee hai

rojaana cholaee ke patton ka ras 20 graam kee mikadaar mein taaza paanee se le ye peshab ke jalan ka behatareen ilaj hai
jeero aur bune hove patakree ke do chutakee karen misee mein mila kar gae ke doodh ke saath us kare
leman ,neem aur mehadee ke patton ko thodee se paanee mein ubaalen aur jab adha baaqee rahe jae to is karahe se ling ko achchhee tarah do le ling jalan khatm 
babool kee kunaplee raat ko paanee mein daal de phar is paanee ko chhaan kar pee le is ke istemaal se peshab ki jalan door ho jaatee hai

* kalmee shora aur badee laeechee ke daanon kee 25 ,25 graam kee mikadaar ko pees le aur subha doodh ke saath le 
* graam tulasee kee kunaplo ko paanee bagho kar pees le phir is mein mishree mila kar is kee 15 khoraak bana le rojaana ek khoraak ke

* karele ka ras do chamach rojaana pai is ke us se jalan khatm hogee 
* 10 graam babol kee chaal ka karja bana kar kuchh dinon tak lagaataar use kare ye bhee pesab me jalan ke lie kaaphee mupheed hai
* ek chamachh taraphala choorn ek kahaamach pesee haavee haldee aur do chamach pesee haavee misree in sab ko mila kar shahed ke saath aahista aahista chaatie is se peshaab kee jalan khatm hogee 
* ek kap neem kee pattiyon ka khada kuchh dinon tak lagaataar istemaal kare ye pesab me jalan ke lie mupheed hai
* bhindee ke photo kee taree se jhaaro ko dho kar khushk kar le phir pees kar choorn bana le is mein thodee se misree pees kar mila le is choorn mein se 10 graam choorn kuchh dinon tak doodh ke saath rojaana istemaal kare is se peshab mein jalan theek ho jaata hai
* thodee se pukhta kele kar kar doodh mein khushk hone par pees le phir is mein thodee see chenee mila kar ek chamak choorn doodh ke saath khaen 
* phalak ke beejon ka choorn teen graam kee mikadaar mein din mein teen baar istemaal kare 
* kharaboja ke beej 10 das graam pees kar is mein chandan ke tel ka das bond mila kar le
* peshaab kee jalan kee beemaaree ko door karane ke lie kuchh dinon tak khere ke ras mein 1/2chamach kalmee shura mila kar rojaana pai 
* anaar ke chalake , katha aur mishree 5,5 graam kee mikadaar mein le kar pees le is daava ko 5 khurek karake subha aur shaam istemaal kare
* braahmee ka ras ,che graam aur beel patar che graam kee osat mein le kar use kare 
* 8,10 dane baadaam kee gariya aur ek chutakee chandan ka bradha donon ko mila kar pees le phir is mein mishree mila kar istemaal kare 
* rojaana 10 das graam pukhta phalase khaane se jaryan kee beemaaree door ho jaatee hai
* pesee haavee patakree bhon le is mein ek chutakee choorn shahed ke saath istemaal kare is se peshab mein jalan khatm hotee hai 
* kele ke tane ka taaja ras das graam ek chamach rojaana pai 
* gae ke doodh ya dahee mein neem kee do adad nimole math kar rojaana pai aur sheyar kare taaki aap ke sheyar karane se kisee kee bhalaee ho

No comments:

Post a Comment