Dil Ki Bimari Ke Lakshan In Hindi-दिल के रोग के लक्षण - Heart Disease Symptoms In Hindi




अगर आपके सीने या छाती में जलन की शिकायत या फिर कमजोरी, जल्दी थकान होना, बहूत अधिक पसीना आ रहा हो और सांस फूलती हो जो शहरो में ज्यादातर एक आम समस्या के नाम पर लोगो में देखने में आती है और ज्यादातर लोग इसे सामान्य परेशानी समझते है अगर आप भी उनमे से एक है तो आप थोरा सचेत हो जाइये ये दिल की बीमारी के भी लक्षण है, लेकिन आपको घबराने की जरूरत नहीं है!


जाने क्या कहना चाहता है आपका दिल?

आपने स्कूल में ये अवश्य पढ़ा ही होगा के व्यक्ति के दिल की धड़कन एकमिनट में 60 से 90 बार धड़कती (BMP) है! लेकिन इसके अधिक हो जाने या असंतुलन बढ़ने पर हार्ट अटेक(Heart Attack) या Cardiac Arrest होने की सम्भावना काफी बढ़ जाती है! जब शरीर में लाल रक्त kadikao की मात्र में कमी होने लगती है तो दिल/ ह्रदय को अत्यधिक कार्य करना पड़ता है जिससे के सारे शरीर को समुचित मात्रा में रक्त की आपूर्ति हो सके! वैसे तो तनाव होने पर या अनीमिया होने पर भी दिल की धड़कन बड जाती है!

दिल की मासपेशियो का रोग क्या है और क्यों होता है?

जब दिल के अकार किसी करणवश कठोर या मोटापन आ जाता है जो अनियमित रूप से बढ़ना भी हो सकता है अगर ऐसा होता है तो हमारे ह्रदय को रक्त पम्प करने में बढ़ाये आने लगती है! जो खतरनाक हो सकता है यह स्थिति गंभीर हो सकती है और हार्ट फैलिअर होने की संभावना होती है!

Cardiac Arrest क्या होता है?

 हमारे देस में 50% लोग कार्डियक अरेस्ट ( Cardiac Arrest) की वजह से मरते है! इसमे किसी को इतने टाइम भी नहीं मिलता के रोगी को अस्पताल तक पहुचाया जा सके! इस केस में दिल हर प्रकार से बंद हो जाता है और रक्त को पंप करने की प्रक्रिया रुक जाती है!  इसे cardiac pulmonary arrest भी कहते है!
यह रोग अनुवांशिक कारणों से और तम्बाकू, गुटका सेवन व धुम्रपान से भी होता है!

Heart Fail- हार्ट फेल क्यों होता है?

ये समस्या सामान्य तौर पर बुजुर्ग लोगो में अधिक देखने में आती है! जब दिल की मस्पेशिया किसी करणवश श्रतिग्रस्त हो जाती है और रक्त का संचरण सारे शरीर में ठीक से नहीं हो पता है तो हार्ट फेल होने की संभावना होती है! सांस लेने में कठिनाई, थकान और पैरो में सुजन इसके लक्षण माने जाते है! इसमे हार्ट काम करता रहता है लेकिन अनुचित मात्र में जरूरत के अनुसार रक्त पम्प नहीं कर पाता! ये डिजीज (disease ) वायरस के होने वाले संक्रमण की वजह से या फिर हार्ट वाल्व, कोरोनरी हार्ट डिजीज, दिल की मास्पेशियो के श्रतिग्रस्थ होने पर भी हो सकती है!

Volwoolar Heart Disease- वोल्वूलर हार्ट डिजीज

कभी कभी किसी कारणवश हार्ट के वोल्व में होने वाला रक्त का रिसाव होने लगता है जिसकी वजह वोल्व का संकरा होना या श्रतिग्रस्त होना हो सकता है ये वोल्व के कार्य करते वक्त सही प्रकार से बंद न होने पर भी हो सकता है! इसे वोल्वूलर हार्ट डिजीज कहा जाता है! 

एनजाइना पैन- Angina Pain

छाती में दर्द को सामान्य तौर पर एनजाइना हार्ट डिजीज के तौर पर जाना जाता है!यह दर्द कोई भी शारीरिक श्रम करने पर बढ़ जाता है और जब शरीर आराम की मुद्रा में होता है तो इस दर्द में भी कमी आती है! एनजाइना आर्थोस्क्लेरोसिस के जरिये होता है तथा इसकी वजह से दिल में खून का प्रवाह कम हो जाता है, जिसकी वजह से बाये कंधे, छाती और जबड़े में दर्द महसूस हो सकता है!

Coronary Heart Disease कोरोनरी हार्ट डिजीज क्या होती है?

इसे धमनियों या फिर एसोचेम हार्ट डिजीज भी कहते है! यह खून की नालिकाओ में प्लाक के जैम जाने के कारण होता है और नलिकाए संकरी हो जाती है, जिससे खून का प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता, इसके कारण एंजाइना, अटैक या हार्ट फैलिअर हो सकता है!

Dil ki Bimari Ke Lakshan in Hindi Me Reeh gas YA hawa Ziyada banna Ziyada tambako cigarette smoking Aur sharab peena Aur Ziyada deeri tak dimagh Par book dalna aur preshani Khoon ki 


naali ki Bimari gurde ki Bimari Gathiya Ziyada motapa wagera Se Dil Mein Dard lagane Lagta he Aur bad me Dil Ki Bimari Rog ban jati he es bimari Rog Ke kuch Karan ye Bhi he jese Buhat Ziyada mehnat pressure Josh dukh sadma Aur morsi kharabi wagera .


Dil ki Bimari Ko Kese janne ge Dil Mein Buhat Dard hone par becheni ho jati he aur Dil mein Dard achanak utta he aur baye kandhe Se baye haat tak pheel Jata hay saans tezzi Se chalne Lagta 


he gabrahat bash jati he thanda pasina ana Aur behosh ho Jana Dil matlana haath Pawan thanda pad Jana aur nabz kamjor Hona ye sab Dil ki Bimari Ke Lakshan aur Karan he

No comments:

Powered by Blogger.